funny shayari Archive

Mirza Galib shayari on PM Modi

मिर्ज़ा ग़ालिब to PM नरेंद्र मोदी… तेरी हुक़ूमत में अजीब कशमकश में गुज़र रही ज़िन्दगी ग़ालिब, दाल खा नहीं सकते और गोश्त खाने नहीं देते। ऊपर से शौचालय पर शौचालय बनवाये जा रहे हैं! जब खायेगा इंडिया

Jethalal Babita Special Shayari – Tarak Mehta Ke Ulta Chashma

जेठालाल स्पेशियल : अहमदाबाद की धुप से स्किन मेरी जली .. वाह वाह …. अहमदाबाद की धुप से स्किन मेरी जली .. जेठालाल बोले , “मेहता साहेब ..” चुरा के दिल मेरा, बबिता चली .. ———————————- जेठालाल