Inspirational Archive

Ek sundar kavita (poem) in Hindi for Indian Army

पठानकोट ………जब वो युद्ध में घायल हो जाता है तो अपने साथी से बोलता है : “साथी घर जाकर मत कहना, संकेतो में बतला देना; यदि हाल मेरी माता पूछे तो, जलता दीप बुझा देना! इतने पर