कभी बीवी के साथ शाँपिंग कर के देख….

Dedicated to all bechara husbands

बच्चे के लिए ये टी शर्ट अच्छी रहेगी न ? ” पत्नी ने रेडीमेड कपड़े की दुकान में अपने पति से पूछा




पति : हाँ बहुत अच्छी रहेगी

पत्नी : पर थोड़ी बड़ी नहीं लग रही है ?

पति : हाँ थोड़ी बड़ी तो है !!

पत्नी : ये हरे कलर वाली ठीक रहेगी

पति : हाँ हरा बढ़िया कलर होता है

पत्नी : पर ये हरा कलर ज्यादा डार्क तो नहीं है

पति :हाँ डार्क तो है

पत्नी : ये नीला कलर मुझे बढ़िया लग रही है

पति : हाँ बहुत बढ़िया नीला कलर है

पत्नी : पर इसमें कालर नहीं है

पति: बिना कालर की टी शर्ट भी कोई टी शर्ट हुई भला

पत्नी : ये लाल कलर वाली मस्त लगेगी मुन्ने पर

पति : हाँ मस्त लगेगा मुन्ना इस में..

पत्नी : दुकान वाले भैया ये लाल कलर वाली टी शर्ट दे देना इनको बहुत पसंद आई है !!

तीन दिन बाद टी शर्ट की धुलाई में सारा लाल रंग निकल गया …

पत्नी ने गुस्से में पति से कहा : एक काम भी ढंग से नहीं आता है आपको….

लाल कलर भी कोई कलर होता है..? निकल गया न सारा कलर ….

दुकान में कह रही थी हरे रंग वाली टी शर्ट ले लो पर आप मेरी सुने तब न….

हर काम में अपनी मन की करते है…. देख लिया नतीजा ?

एक टी शर्ट तो पसंद नहीं कर सकते पता नहीं ऑफिस में क्या करते होंगे

जिंदगी का ग़म तू क्या जानेगा ग़ालिब;

तू तो बस शायरी करता है,

कभी बीवी के साथ शाँपिंग कर के देख….


Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *